csc van dhan yojana

csc van dhan yojana kya hain

csc van dhan yojana को सुचार रूप से चलाने के लिए TRIFED ने CSC SPV के समझौता किया हैं ! सबसे पहले मैं आपको यह बताना चाहूगा की TRIFED क्या हैं ! TRIFED का पूरा नाम “द ट्राइबल कोऑपरेटिव मार्केटिंग डेवलपमेंट फेडरेशन ऑफ इंडिया” है ! ट्राइफेड का मूल उद्देश्य जनजातियों लोगों द्वारा जंगल से एकत्र किये गए ! या इनके द्वारा बनाये गए उत्पादों को बाजार में सही दामों पर बिकवाने की व्यवस्था करना है !

pradhan mantri van dhan scheme
pradhan mantri van dhan scheme

csc van dhan yojana ( सीएससी वन धन योजना ) का मुख्य उद्देश्य जनजाति लोगों के जीवन यापन में सुधार करना है ! आज भी जनजाति लोगों का जीवन यापन सही से नहीं चल रहा है ! इसीलिए सरकार ने सीएससी जन धन योजना का शुरुआत की है ! जिसके तहत जो भी जनजातीय लोग जंगल से किसी भी टाइप का सामान लाते हैं ! उनको बाजार में सही कीमत पर बेचा जा सके ! इस स्कीम के तहत सरकार जनजाति लोगों को अपने सामान को सही तरीके से बेचना ! तथा उससे बिजनेस करना सिखाएगी ! इसके तहत प्रत्येक गांव में एक समूह बनाकर उन व्यक्तियों व्यक्तियों को प्रशिक्षण देना होगा !

यह भी पढ़े : सभी किसानो को 6 हजार रूपये हर साल मिलेंगे

csc van dhan yojana 2019 का मुख्य उद्देश्य

1. इस योजना का मुख्य उद्देश्य जनजाति समुदाय के लोगों का जीवन यापन में सुधार करना है !
2. जनजातियों द्वारा एकत्र किए गए ‘माइनर फॉरेस्ट प्रोड्यूस (एमएफपी) को उचित मूल्य उपलब्ध कराना ताकि उनकी आय बढ़ सके !
3. प्रत्येक जिले में वन धन केंद्रों का गठन किया जाएगा ,जिसमें 300 जनजाति लोगों को ट्रेनिंग और आर्थिक रूप से सपोर्ट दिया जायेगा !
4. प्रत्येक जिले में 15 केंद्रों की स्थापना कर प्रत्येक ग्राम पंचायत से 20 लोगों को SELP HELP GROUP से जोड़ने का लक्ष्य रखा गया है !
5. यदि उत्पादों की कीमत में उतार-चढ़ाव होता है तो ट्राइफेड कृषि मंत्रालय से जनजातियों के लिए मुआवजे की व्यवस्था करता है !

यह भी पढ़े : कुसुम सोलर पंप स्कीम में 60 % का अनुदान

6. जनजाति लोग जो भी जंगल से सामग्री लाते हैं , उनका उचित मूल्य दिलाना !
7. जनजाति लोगों को उत्पादन बढ़ाने के लिए ट्रेनिंग और प्रशिक्षण देना !
8. जनजाति लोगों के द्वारा तैयार किए गई सामग्री को खरीदना !
9. जंगलों का रखरखाव और उनकी देखभाल करना !
10. उत्पादों की (एमएफपी) सतत कटाई सुनिश्चित करना !

csc van dhan yojana 2019 में VLE की भूमिका

csc van dhan yojana 2019 सीएससी का अहम रोल होगा ! वन धन योजना के माध्यम से लोगों का समूह तथा प्रशिक्षण देने में VLE एक अहम रोल निभाएगा ! रैली के माध्यम से अपने क्षेत्र में जनजाति लोगों का पता लगाना तथा उनको एकत्र करके ग्रुप बनवाने का काम करना !

वन धन योजना के तहत सरकार जनजाति लोगों को 30 लाख तक का अनुदान देगी ! इस अनुदान को दिलाने में VLE भी एक अहम रोल निभाएगा ! यह अनुदान सरकार की जरूरतमंदों को देगी जो या तो उत्पादन को बढ़ाने के लिए मशीन की खरीदना चाहते हैं ! या उसे रखरखाव के लिए स्टोर बनाना चाहते हैं ! इस अनुदान को लेने के लिए जनजाति लोगों पहले एक प्रपोजल बनाना होगा ! इस प्रपोजल को बनाने में जनजाति लोगों की CSC VLE मदद करेगा ! तथा 30 लाख का अनुदान प्रदान करने के लिए भी VLE अहम् रोल निभायेगा !

यह भी पढ़े : घर के नक़्शे 3D में दिखने के लिए यंहा क्लिक करे

van dhan yojana 2019 VLE को क्या होगा फायदा

जहां पर VLE को इतनी सारी जिम्मेदारियों को उठाना पड़ेगा ! जनजाति लोगों को 30 लाख का अनुदान दिलाने ! तथा उसे खर्च करने में भी VLE की एक अहम भूमिका होगी ! यदि किसी जनजाति समूह को 30 लाख का अनुदान मिलता है ! तो उसे कहां खर्च करना है, यह VLE की देखरेख में होगा ! VLE को इस काम के लिए सरकार उचित मूल प्रदान करेगी !

pradhan mantri van dhan yojana 2019 के तहत केन्द्रों का गठन

pradhan mantri van dhan yojana 2019 को लगभग प्रत्येक जरुरत मंद गांव में पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है ! राष्ट्रपति महोदय ने अभी अपने एक भाषण में इसका जिक्र करते हुए यह बताया था ! शुरुआत में van dhan yojana 2019 को 600 गांव में लगभग स्टार्ट किया जाएगा ! देश के प्रत्येक राज्य में लगभग 30,000 केंद्रों की स्थापना की जाएगी ! van dhan केंद्रों में जनजाति लोगों को कौशल विकास प्रशिक्षण और उत्पन्न की गई चीजों के रखरखाव के लिए उचित व्यवस्था की जाएगी ! प्रत्येक जिले में जो केंद्र खोले जाएंगे उनके रखरखाव के लिए लगभग सरकार 30 लाख का अनुदान प्रदान करेगी !

महत्वपूर्ण जानकारियां :

 

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published.