Gharauni Kya Hain

Table of Contents

घरौनी क्या हैं ? / Gharauni Kya Hain / What is Gharauni ?

घरौनी एक प्रकार का दस्तावेज है , जिसे ग्रामीण आवासीय अभिलेख भी कहते हैं ! स्वामित्व योजना के तहत प्रत्येक घर के लिए एक घरौनी कार्ड (gharauni card)

बनाया जाएगा ! इस कार्ड में घर एक आईडी होगी जिससे यह चिन्हित किया जा सके यह घर आपका है ! जैसे आपका एक आधार कार्ड बना हुआ है ,जिससे आप की पहचान होती है कि यह आप हैं ! ऐसे ही ग्रामीण इलाकों में स्वामित्व योजना (swamitva yojana) के तहत प्रत्येक घर की घरौनी प्रमाण पत्र / घरौनी कार्ड बनाया जाएगा !

gharauni card / gharauni praman patra से पहचान की जा सके यह घर आपका है ! जिससे भविष्य में आपसी विवाद झगड़े खत्म हो जाएंगे ! आप को बैंक से घरौनी प्रमाण पत्र (gharauni praman patra) पर लोन भी मिल जाया करेगा ! अभी तक ग्रामीण इलाकों में घरों की किसी भी प्रकार की दस्तावेज (ग्रामीण आवासीय अभिलेख) उपलब्ध नहीं है ! घरौनी एक ऐसा दस्तावेज है जो आपके घर को यह प्रमाणित करेगा कि यह घर आपका है ! घरौनी प्रमाण पत्र या घरौनी कार्ड में 13 अंकों की एक आईडी दी जाएगी !

 

What is Gharauni Card / घरौनी प्रमाण पत्र / घरौनी कार्ड क्या हैं ? !  / Gharauni Praman Patra

स्वामित्व योजना के तहत ग्रामीणों को दी जाने वाली घरौनी (Gharauni Card) में हर मकान का यूनीक आइडी नंबर दर्ज होगा ! 13 अंकों के इस आइडी नंबर में पहले छह अंक गांव के कोड को दर्शाएंगे ! अगले पांच अंक आबादी के प्लांट नंबर को दर्शाएंगे और आखिरी के दो अंक उसके संभावित विभाजन को दर्शाएंगे !

घरौनी (Gharauni Praman Patra ) आपके घर का दस्तावेज है जैसे यह प्रमाणित होगा कि यह मकान या घर आपका है ! भविष्य में आप घरौनी के माध्यम से अपने घर पर लोन भी ले सकते हैं ! अभी तक ग्रामीण इलाकों में ऐसा कोई दस्तावेज उपलब्ध नहीं है ,जिससे यह साबित किया जाए यह घर आपका है ! इसलिए घरौनी योजना की शुरुआत की गई और घरौनी प्रमाण पत्र / घरौनी कार्ड निकाल दिए जा रहे हैं !

घरौनी कैसे डाउनलोड करें / gharauni kaise download kare / How to download up gharauni

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के तहत घरौनी कैसे डाउनलोड करें (gharauni kaise download kare) ! यदि आप जानना चाहते हैं तो इस आर्टिकल पर बने रहें ! मैं आपको आज बताऊंगा घरौनी प्रमाण पत्र कैसे डाउनलोड की जा सकती है ! सबसे पहले आपको यह जानना आवश्यक होगा ! Pradhan Mantri Swamitva Yojana के तहत है घरौनी (ग्रामीण आवासीय अभिलेख) क्या है (What is Gharauni),घरौनी के लाभ (Benifit of Gharauni) क्या है ! प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के तहत है घरौनी योजना (gharauni yojana) क्यों शुरू की गई ! भविष्य में घरौनी योजना के क्या लाभ (Benifits of gharauni scheme ) होने वाले हैं !

ग्रामीण इलाकों में जितने भी घर बने हुए हैं ,उनका कोई सरकारी दस्तावेज नहीं है ! जिससे वह यह कह सकें कि यह मेरा घर है ! ग्रामीण इलाकों में घरों को चिन्हित करने के लिए प्रत्येक घर की घरौनी प्रमाण पत्र बनाई जा रही है ! इसीलिए भारत सरकार ने पीएम स्वामित्व योजना (PM Swamitva Yojana) की शुरुआत की है ! जिसके तहत घरौनी योजना शुरू की गई है ! अब आप अपने घर की घरौनी आसानी से डाउनलोड (gharauni kaise download kare) कर सकते हैं ! घरौली (gharauni list) निकालने के लिए आपको कुछ स्टेप फॉलो करने होंगे ! आज मैं आपको बताने वाला हूं ,gharauni kya hain है ! gharauni ke labh लाभ क्या है ! आप gharauni kaisee banwaye कैसे बनवा सकते हैं !

घरौनी योजना का फायदा ? / Benifits of Gharauni Scheme / Gharauni kya hain jane

जब केंद्र सरकार ने swamita yojana शुरुआत की थी ,तो यह सोच कर कि थी कि ग्रामीण इलाकों में घरों से संबंधित लड़ाई झगड़े खत्म हो जाएंगे ! घरौनी प्रमाण पत्र या घरौनी कार्ड से खत्म हो जाएगा ! अभी ग्रामीण इलाकों में घर का किसी भी प्रकार का दस्तावेज ना होने के कारण आए दिन लड़ाई झगड़े होते रहते हैं ! gharauni yojana लागू होते ही यह सभी लड़ाई झगड़े खत्म हो जाएंगे ! प्रत्येक व्यक्ति को अपने घर का मालिकाना हक (gharauni website) मिल जाएगा ! जिससे वह अपने घर पर लोन भी ले सकता है !

Gharauni Card Deatils

योजना का नाम                         घरौनी योजना
किसने आरंभ की                      भारत सरकार
लाभार्थी                                   भारत के नागरिक
उद्देश्य                                    ग्रामीण आवासीय अभिलेख
gharauni website                  svamitva.nic.in
साल                                       2021
आवेदन का प्रकार                    ऑनलाइन

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना क्या हैं , What is Prahdan Mantri Swamitva Yojana Hindi

“पीएम स्वामित्व योजना” (PM Swamitva Yojana Hindi) के तहत देश के गांव में रहने वाले लोगों को उनके आवासीय जमीन का मालिकाना हक दिलाना है ! योजना का मुख्य उद्देश्य संपत्ति का रिकॉर्ड बनाना और उसका मालिकाना हक तय करना है ! पंचायती राज दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने स्वामित्व योजना (Swamitva Yojana) की शुरुआत की थी ! जमीन का मालिकाना हक दिलाने के लिए नई तकनीक का इस्तेमाल किया जाएगा ! गांव में जमीन की पैमाइश के लिए ड्रोन तकनीक की मदद ली जाएगी ! जिससे किसान और गांव वालों की संपत्ति का रिकॉर्ड बनाया जाएगा !

ड्रोन के मदद से देशभर के सभी गांव में संपत्ति मैपिंग की जाएगी ! जिस गांव वाले के हिस्से में जितनी जमीन आएगी उनका मालिकाना हक दिलाने के लिए उन्हें कागज दिए जाएंगे ! प्रधानमंत्री स्वामित्वा योजना से ग्रामीण लोग भी अपनी संपत्ति पर बैंक से लोन ले सकेंगे ! ग्रामीण अपनी संपत्ति पर लोन लेकर किसी भी तरह का रोजगार या बिजनेस शुरू कर पाएंगे !

हम सभी लोग जानते हैं ग्रामीण में आवासी संपत्ति का कोई भी रिकॉर्ड नहीं होता है ! ग्रामीण इलाकों में यदि आपका घर है ,तो उसको सरकार के पास या आपके पास कोई भी मालिकाना हक नहीं है ! जिससे यदि किसान आवासी जमीन पर लोन लेना चाहता है ! तो उसके पास किसी भी प्रकार के दस्तावेज अवेलेबल नहीं है ! जिससे बैंक लोन देने से मना कर देती हैं ! इसीलिए प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना (pradhan mantri swamitva yojana) की शुरुआत की गई है ! जिससे किसानों को उनकी आवासी जमीन का मालिकाना हक मिल सके !

घरौनी योजना की आवश्यकता (Need of Gharauni Yojana )

ग्रामीण इलाकों में लोगों के पास अपनी आवासी जमीन का रिकॉर्ड नहीं होता है ! यदि उनसे कहा जाए कि इसकी रजिस्ट्री या मालिकाना हक के कागजात दिखाए ! तो उनके पास नहीं होते हैं ! अभी तक ऐसी कोई भी व्यवस्था नहीं थी ! जिससे ग्रामीण इलाकों की आवासी जमीन का मालिकाना हक जताया जा सके ! इसलिए सरकार ने स्वामित्व योजना का शुभारंभ किया !
जिससे यह सुनिश्चित होगा कि ग्रामीण इलाकों की आवासी जमीन का मालिकाना हक किसके पास है ! वह अपने मालिकाना हक़ से उसे जमीन पर दावा कर सकेंगे ! यदि उनके पास मालिकाना हक होगा तो बैंक उस जमीन पर लोन भी दे सकेंगे ! इस को ध्यान में रखते हुए प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना ( PM Swamitva Yojana Hindi) की शुरुआत की गई !

घरौनी के प्रकार / ( Category of Gharauni )

यहां पर मैं आपको बताने वाला हूं कि ग्रामीण इलाकों में जमीन कितने प्रकार की होती हैं ! क्योंकि कुछ जमीन सरकार कब्जा किए रहती है ,कुछ नागरिक ! इन्हीं के आधार पर घरौनी के प्रकार बनाए गए हैं जो निम्न वत हैं ! जिससे आप यह अंदाजा लगा सकते हैं कि जमीन या घरौनी के प्रकार क्या होते हैं

केंद्र सरकार के विभाग, निगम, प्राधिकरण आदि के भवन, भूमि
राज्य सरकार के विभाग, निगम आदि के भवन और भूमि
अर्ध सरकारी संस्थाओं के भवन और भूमि,
सहकारी संगठन, स्वयं सहायता समूह के भवन व भूमि,
ग्राम पंचायत/स्थानीय निकाय के भवन व भूमि,
निजी/व्यक्तिगत/पारिवारिक भवन व भूमि,
निजी कंपनी, कॉरपोरेशन, फर्म आदि के भवन व भूमि,
न्याय व धर्मार्थ संस्थाओं, एनजीओ के भवन व भूमि,
अन्य भवन व भूमि

घरौनी पर मिलेगा बैंक लोन ?

आज भी ग्रामीण इलाकों में उनके घर का किसी भी प्रकार का सरकारी दस्तावेज (house Gharoni of Village) नहीं उपलब्ध है ! आपके खेत खलियान का तो सरकारी दस्तावेज खतौनी के रूप में उपलब्ध है ! लेकिन घर का मालिकाना हक का दस्तावेज (ग्रामीण आवासीय अभिलेख) ना होने के कारण आए दिन विभिन्न प्रकार की परेशानियां आती रहती हैं ! जब आपके घर का बटवारा होता है तब भी घर का पुख्ता दस्तावेज ना होने के कारण लड़ाई झगड़े बढ़ जाते हैं !

इन सभी को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना की शुरुआत की है ! जिसके तहत प्रत्येक ग्रामीण इलाकों में घरों की ग्रामीण आवासीय अभिलेख (up gharauni list) बनाई जा रही है ! यह ग्रामीण आवासीय अभिलेख विभिन्न प्रकार से लोगों को फायदा पहुंचाने वाली है ! इससे आप बैंक से लोन भी ले सकते हैं ! क्योंकि आपके पास घर का पुख्ता दस्तावेज होगा , तो आप बैंक से अपने घर पर लोन ले सकते हैं ! जैसे कि अभी तक शहरों में यह सेवाएं उपलब्ध है !

योजना के तहत 11 लाख gharauni certificate

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को स्वामित्व योजना के तहत ! 11 लाख ग्रामीणों को डिजिटल माध्यम से उनके आवास का मालिकाना हक दिलाने वाला ! ग्रामीण आवासीय अभिलेख यानी घरौनी प्रमाणपत्र सौंपा !
मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि अब गड़बड़ करके या एक ही जमीन कई लोगों को बेचने वालों की खैर नहीं ! जमीन के दस्तावेज होने से अब बैंक लोन भी आसानी से मिल सकेगा ! मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि राजस्व विभाग और स्टांप रजिस्ट्रेशन विभाग को मिलकर यह देखना चाहिए ! कि जो व्यक्ति जमीन बेच रहा है यह जमीन उसके नाम है भी या नहीं !

कैसे और कब तक मिलेगी आपको अपने घर की घरौनी प्रमाणपत्र ?/ How Can i find my house gharauni online

घरौनी प्रमाणपत्र मिलने से ग्रामीणों को बैंकों से लोन प्राप्त करना आसान हो जाएगा ! अन्य आवश्यक सेवाओं को हासिल करने में भी घरौनी के दस्तावेज उनके काम आ सकेंगे ! राज्य सरकार स्वामित्व योजना के तहत सभी 75 जिलों में घरौनियां तैयार किए जाने का काम बड़ी तेजी से कर रही है !

अभिलेखों को तैयार करने के लिए 1,10,313 ग्रामों को चिह्नित किया गया है! स्वामित्व योजना के तहत 20 जून तक प्रदेश के कुल 68641 ग्रामों में ड्रोन सर्वे का कार्य पूरा कर लिया गया है ! 23287 ग्रामों में कुल 3428305 घरौनियां तैयार हो चुकी हैं !

योजना के तहत ग्रामीण आवासीय अभिलेखों का निर्माण हो जाने पर प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में संपत्ति संबंधी विवाद काफी कम हो जाएंगे ! स्वामित्व का अभिलेख बन जाने पर न्यायालय में चल रहे विवादों का निस्तारण जल्द होगा !

घरौनी योजना क्या है ?

केंद्र सरकार के द्वारा ग्रामीण घरों की मालिकाना हक देने के लिए घरौनी योजना की शुरुआत की गई !

ग्रामीण घरौनी क्या है ?

ग्रामीण इलाकों में घर का सरकारी दस्तावेज या रजिस्ट्री घरौनी कहलाती है

घरौनी कार्ड क्या है ?

यह एक प्रकार का दस्तावेज है जिसमें 13 अंकों की आईडी के साथ बिल्कुल अलग पहचान रखती है !

घरौनी कैसे डाउनलोड करें ?

अभी इस स्कीम की शुरुआत की गई है ! जल्दी सभी लोगों की घरौनी बनने के बाद डाउनलोड करने का ऑप्शन आ जाएगा !

घरौनी कैसे बनवाएं ?

इसके लिए सरकार प्रत्येक गांव की ड्रोन से मैपिंग करके प्रत्येक घर की घरौनी बना रही है !

घरौनी योजना की वेबसाइट क्या है ?

इसकी वेबसाइट svamitva.nic.in है

घरौनी योजना में रजिस्ट्रेशन कैसे करें ?

इसके लिए आपको svamitva.nic.in की ऑफिशल वेबसाइट पर जाकर रजिस्ट्रेशन करना होगा

घरौनी क्यों बनवाएं ?

इससे आपको गांव के घर का मालिकाना हक मिलेगा !

यूपी घरौनी क्या है ?

उत्तर प्रदेश सरकार में इस योजना की शुरुआत कर दी है !

Previous Article
Next Article

2 Replies to “Gharauni Kya Hain”

Leave a Reply

Your email address will not be published.