किसान क्रेडिट कार्ड क्या है ( what is kisan credit card) किसान इसका लाभ कैसे उठाये

Table of Contents

किसान क्रेडिट कार्ड क्या है ( what is kisan credit card):

किसान क्रेडिट कार्ड (kcc)योजना 1998 में किसानों को बैंकों द्वारा एक समान गोद लेने के लिए किसानों को उनके आधार पर “kisan credit card”

जारी करने के लिए शुरू की गई थी ! ताकि किसान बीज, उर्वरक, कीटनाशक जैसे कृषि आदानों को आसानी से खरीद सकें !सरकार बैंक से लोन के रूप में किसान को सहायता देने के लिए एक कार्ड बनती हैं ! जिसे हम किसान क्रेडिट कार्ड कहते हैं ! जैसे कि उसके पानी , बुवाई , बीज, खाद , किटनासक दवाओ ! आदि की पैसों की जरूरत पूरा करने के लिए भारत सरकार किसान कार्ड बनवाती हैं !

 

kishab credit kard
                                   kishab credit kardaarthik survey 2019

 

सरकार “kisan credit card” (kcc) पर बैंक से लोन दिलवाती तो है , लेकिन इस पर बहुत ही कम ब्याज दर होती है ! जिससे किसान बहुत ही आसानी से अपनी फसल काटते समय पैसा अदा कर सकता है ! सरकार ने यह स्कीम इसलिए स्टार्ट की जिससे किसान को खेती के सारी जरूरतों को पूरा करने में पैसों की आवश्यकता की पूर्ति हो सके ! जिससे वह बैंक से लोन लेकर उनको पूरा कर सकते हैं ! जैसे उनकी फसल कटती हैं ! वो बैंक से लिया गया लोन बहुत ही कम ब्याज दर के साथ अदा कर सकते हैं !

 

किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने का उद्देश ( purpose of kisan credit card):

किसानों को समय पर और पर्याप्त ऋण प्रदान करने के लिए ! आकस्मिक व्यय को पूरा करने के अलावा अपनी उत्पादन ऋण की जरूरतों (खेती के खर्चों) को पूरा करने के लिए ! सरलीकृत प्रक्रिया के माध्यम से सहायक गतिविधियों से संबंधित खर्चों के रूप में और जब जरूरत हो ऋणों के लाभ की सुविधा प्रदान करने के लिए kisan credit card बनवाते हैं !

यह भी पढ़े :  फ्री में लगवाये सोलर पैनल घर पर, क्या हैं सरकार का प्लान पूरी जानकारी

किसान क्रेडिट कार्ड कौन बनवा सकता हैं (who apply for kisan credit card):

1. सभी किसानों – एकल/ संयुक्‍त उधारकर्ता जो कि स्‍वामित्‍वधारी कृषक हैं !
2. किराए के काश्‍तकार, जुबानी पट्टाधारी एवं सांझा किसान इत्‍यादि !
3. स्‍व सहायता समूह या संयुक्‍त दायित्‍व समूह के किसान जिसमें किराए के काश्‍तकार, सांझा किसान शामिल हैं इत्यादि !

किसान क्रेडिट कार्ड पर कितना ऋण मिलता हैं ( Limit of kisan credit card ):

1. पहले वर्ष के लिए अल्‍पावधि ऋण सीमा प्रदान की गई है ! जो कि प्रस्‍तावित फसल पद्धति एवं वित्‍त के मान के अनुसार उगाई गई फसलों पर आधारित करता हैं !

2. किसान क्रेडिट कार्ड ( kisan credit card )ऋण का निर्धारण आप की फसल पर निर्भर करता है ! यदि आप महंगी फसल बोते हैं तो आपको ज्यादा ऋण मिलेगा ! यदि आप सस्ती फसल बोते हैं तो आपको कम ऋण मिलता है !

3. किसान क्रेडिट कार्ड ऋण का निर्धारण आपकी भूमि पर भी निर्भर करता है ! यदि आप की बंजर भूमि है , तो आपको कम ऋण मिलता है ! यह सारी जानकारी सरकार के पास खसरा के रूप में होती है ! जोकि तहसील में आप देख सकते हैं ! खसरा में यह सब लिखा होता है , कि आप की भूमि पर कौन-कौन सी फसलें हो भी सकती है ! उसी के आधार पर आपको बैंक ऋण देती हैं !

4. एक बार किसान क्रेडिट कार्ड बन जाता है ! तो आप उससे आसानी से अपने कृषि कार्य को करने के लिए बैंक से लोन ले सकते हैं ! दोबारा लोन लेने से पहले आपको पिछला लोन चुकाना पड़ता है !

5. प्रत्‍येक अगले वर्षों (दूसरे, तीसरे, चौथे वर्ष) में यह सीमा10%की दर से बढा दी जाती हैं ! पॉंचवे वर्ष के लिए किसानों को अल्‍पावधि ऋण की सीमा पहले वर्ष से लगभग 150% अधिक की स्‍वीकृति दी जाएगी !

6.. केसीसी की सीमा का निर्धारण करते समय कृषि यंत्रों /उपकरणों आदि के रूप में छोटी राशियों की निवेश की आवश्‍यकताएं जैसे स्‍प्रेयर, हल आदि जो कि एक वर्ष की अवधि में देय होगी को शामिल किया जाएगा !

यह भी पढ़े : जन औषधि केंद्र खोलने के लिए, सरकार देगी 2.5 लाख रुपए की सहायता ,आज ही करे हैं अप्लाई

 

किसान क्रेडिट कार्ड ऋण कब चुकाना पड़ता हैं (Date of deposit kisan credit card money):

खरीफ/एकल फसल                                        1 अप्रैल से 30 सितम्‍बर – 31 जनवरी

रबी/एकल फसल                                             1 अक्‍तूबर से 31 अक्‍तूबर – 31 जुलाई

दोहरी/विविध फसलों खरीफ एवं रबी फसलों    31 जुलाई

दीर्घावधि फसलों वर्ष भर                                  12 माह (पहले संवितरण की तारीख से )

उधारकताओं को चुकौती तारीख के अंतर्गत अपनी कृषि आय या अन्‍य जमाओं को kisan credit card खाते में जमा करना होता है ! जो कि ब्‍याज एवं अन्‍य प्रभारों के साथ एक न्‍यूनतम ऋण राशि के बराबर होना चाहिए !

 

यह भी पढ़े : बेरोजगारों और किसानो को मिलेगी हर महीने फिक्स्ड सैलरी ,यूनिवर्सल बेसिक इनकम स्कीम

किसान क्रेडिट कार्ड की प्रमुख विशेषताएं और फायदें ( Benefite of kisan credit card):

1.सभी केसीसी ऋणियों के लिए फ्री एटीएम-सह-डेबिट कार्ड (स्टेट बैंक किसान कार्ड के लिए ) !
2.शीघ्रता से ऋण चुकाने पर 3% वार्षिक दर से अतिरिक्त ब्याज सहायता !
3.सभी केसीसी ऋणों के लिए फसल बीमा के अंतर्गत अधिसूचित फसलों/अधिसूचित क्षेत्रों को शामिल किया गया है !
4.केसीसी एक विविध खाते के स्‍वरूप का होगा। इस खाते में कोई जमा शेष रहने की स्‍थिति में उस पर बचत खाते के समान ब्‍याज मिलेगा !
5. 3 लाख तक की ऋण राशि के लिए 2% वार्षिक दर से ब्याज सहायता उपलब्ध !

 

किसान क्रेडिट कार्ड ब्याज दर (intrest rate of kisan credit card):

1. एक वर्ष के लिए या चुकौती की देय तिथि तक, जो भी पहले हो, 7% वार्षिक दर साधारण ब्याज वसूल किया जाएगा ! जिसमे लगभग 3% सरकार प्रदान करती हैं ! आपको पहली साल में 4 % ब्याज दर चुकानी होती हैं !
2. यह ब्याज दर प्रतेक बैंक में लगभग एक सामान होता हैं !
3.देय तिथियों के अंदर चुकौती नहीं करने के मामले में, कार्ड दर से ब्याज लागू किया जाता हैं !
4. देय तिथि के बाद छमाही अंतराल पर चक्रवृद्धि ब्याज लगाया जाता हैं !

 

किसान क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन कैसे करें ( how to apply for kisan credit card ):

kisan credit card के लिए आपको अपने निकतम किसी भी बैंक में जाकर संपर्क कर सकते हैं ! जैसे की स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया , बैंक ऑफ़ बरोदा , पंजाब नेशनल बैंक , बैंक ऑफ़ बरोदा ग्रामीण आदि !

 

महत्वपूर्ण जानकारियां :

Previous Article
Next Article

4 Replies to “किसान क्रेडिट कार्ड क्या है ( what is kisan credit card) किसान इसका लाभ कैसे उठाये”

Leave a Reply

Your email address will not be published.