जानिए Pravasi Rahat Mitra App के बारे में

Pravasi Rahat Mitra App का परिचय

कोरोना वायरस के कारण देशव्यापी लॉकडाउन के बाद! दूसरे राज्यों से उत्तर प्रदेश लौटे प्रवासी मजदूरों के लिए योगी सरकार ने एक एप (Pravasi Rahat Mitra App)लॉन्च किया है!  इसका नाम ‘प्रवासी राहत मित्र’ एप है! योगी सरकार के मुताबिक इस एप को लॉन्च करने का मकसद इन मजदूरों को विभिन्न योजनाओं का लाभ दिलाना है! साथ ही एप की मदद से मजदूरों के स्वास्थ्य पर निगरानी रखने में भी सहूलियत होगी!

Pravasi Rahat Mitra App के बारे में सामान्य जानकारी

यूपी सरकार के मुताबिक,  ‘Pravasi Rahat Mitra App’ की मदद से मजदूरों का डेटा कलेक्ट कर! भविष्य में उन्हें उनके कौशल के हिसाब से नौकरी और आजीविका प्रदान करने की व्यवस्था की जाएगी! एप में डेटा डुप्लीकेशन ना हो! इसके लिए यूनीक मोबाइल नंबर को आधार बनाया गया है! सभी जिलों के डीएम की अगुवाई में डेटा कलेक्शन की जिम्मेदारी! नगर विकास विभाग और ग्रामीण क्षेत्र में पंचायती राज विभाग को सौंपी गई है!  इस एप से कलेक्ट किए गए डेटा को इंटीग्रेटेड इंफॉर्मेशन मैनेजमेंट सिस्टम पर स्टोर किया जाएगा!

सीएम योगी ने की श्रमिकों से अपील

औरंगाबाद रेल हादसे के बाद मुख्यमंत्री योगी ! ने एक बार फिर दूसरे राज्यों से उत्तर प्रदेश लौटने के इच्छुक श्रमिकों से अपील है! कि वे साइकिल से या पैदल न आएं! मुख्यमंत्री योगी ने ट्वीट किया, ”सभी कामगार व श्रमिक बहनों- भाइयों से मेरी पुनः अपील है कि! आप लोग दूसरे प्रदेश से घर आने के लिए साइकिल से या पैदल न चलें! पैदल चलना आपके स्वास्थ्य व सुरक्षा के लिए खतरा हो सकता है! यह परीक्षा की घड़ी है! धैर्य बनाए रखिए, आप सबकी सुरक्षित वापसी की व्यवस्था की जा रही है!”

क्या है Pravasi Rahat Mitra App का मकसद ?

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को प्रवासी राहत मित्र ऐप का लोकार्पण किया!  इस ऐप का मकसद अन्य प्रदेशों से उत्तर प्रदेश में आने वाले! प्रवासी नागरिकों को सरकारी योजना का लाभ, उनके स्वास्थ्य की निगरानी! एवं विशेष कर उनके कौशल के लायक भविष्य में नौकरी एवं आजीविका प्रदान करने में मदद करना है! इसके लिए Pravasi Rahat Mitra App ऐप के जरिये इन प्रवासी नागरिकों का डेटा संग्रह होगा!

किसनें ऐप तैयार किया है ?

राजस्व विभाग ने यूनाइटेड नेशन डेवलपमेंट प्रोग्राम के सहयोग से यह ऐप तैयार किया है! सरकार के विभिन्न विभागों द्वारा आपस में सूचना का आदान प्रदान कर! इन प्रवासी नागरिकों के रोजगार एवं आजीविका के लिए नियोजन एवं कार्यक्रम बनाने में मदद मिलेगी! इस ऐप के द्वारा, आश्रय केंद्र में रुके हुए व्यक्तियों एवं किसी भी कारणवश अन्य प्रदेशों से! सीधे अपने घरों को पहुंचने वाले प्रवासी व्यक्तियों का पूरा विवरण लिया जायेगा! ताकि उत्तर प्रदेश में आने वाले कोई भी प्रवासी छूट न पाए! ऐप में व्यक्ति की मूलभूत जानकारी जैसे कि नाम, शैक्षिक योग्यता, अस्थायी और स्थायी पता! बैंक अकाउंट विवरण, कोविड 19 सम्बंधित स्क्रीनिंग की स्थिति, शैक्षिक योग्यता और अनुभव लिया जाएगा! इसमे 65 से भी ज्यादा प्रकार के कौशल का विवरण एकत्र किया जायेगा!

ऐप ऑनलाइन चलेगा या ऑफलाइन ?

प्रवासी नागरिकों को दी जाने वाली राशन किट के वितरण की स्थिति भी ऐप में दर्ज की जायेगी! इस ऐप में डाटा डुप्लीकेशन न हो, इसके लिये यूनीक मोबाईल नम्बर को आधार बनाया जायेगा! इस ऐप की एक अन्य विशेषता यह भी है कि इसमें ऑनलाइन के साथ-साथ ऑफलाइन भी काम कर सकते हैं! इसके अतिरिक्त प्रभावी निर्णय लेने के लिए ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों के! लोगों के डेटा को भी ऐप में अलग-अलग किया जा सकता है! डेटा संग्रह का कार्य शीघ्र सम्पादित हो इसके लिये विकेन्द्रीकृत स्तर पर! यथा आश्रय स्थल, ट्रांजिट पॉइंट, व्यक्ति का निवास स्थान पर डेटा संग्रह किया जायेगा!

किसकी होगी जिम्मेदारी ?

जिलाधिकारी के नेतृत्व डेटा संग्रह की जिम्मेदारी शहरी क्षेत्र में नगर विकास विभाग/नगर निकाय की तथा ग्रामीण क्षेत्र में सीडीओ पंचायती राज विभाग की होगी ऐप के माध्यम से संग्रहित डेटा को राज्य स्तर पर स्थापित इंटीग्रेटेड इनफार्मेशन मैनेजमेंट सिस्टम (www.rahatup.in) पर स्टोर किया जायेगा तथा इसका विश्लेषण कर प्रवासी नागरिकों को सरकारी योजना का लाभ, उनके स्वास्थ्य की निगरानी एवं विशेष कर उनके कौशल के लायक भविष्य में नौकरी एवं आजीविका प्रदान करने में सहयोग किया जायेगा।

महत्वपूर्ण बिंदु :

  • 8 मई 2020 को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रवासी राहत मित्र ऐप का लोकार्पण किया।
  • राजस्व विभाग के राहत आयुक्त कार्यालय द्वारा तैयार किया गया यह ऐप यूएनडीपी (यूनाइटेड नेशंस डेवलपमेंट प्रोग्राम) के सहयोग से विकसित किया गया है।
  • इस ऐप की मदद से प्रवासी कामगारों को सरकारी योजनाओं का लाभ मिलेगा।
  • Pravasi Rahat Mitra App के माध्यम से प्रवासी मजदूरों से जुड़े हर आंकड़े एकत्रित किए जाएंगे।
  • ऐप में आश्रय गृह में रह रहे लोगों की पूरी जानकारी रहेगी और साथ ही उन प्रवासी कामगारों का भी आंकड़ा रहेगा जो दूसरे राज्यों से आने के बाद अपने घरों में रह रहे हैं।
  • ऐप में प्रवासियों से जुड़ी सामान्य जानकारियां जैसे कि नाम, शिक्षा, अस्थाई और स्थाई पता, बैंक अकाउंट की जानकारी, कोरोना से जुड़ी स्क्रीनिंग की स्थिति और अब तक किए गए कार्य का अनुभव सूचीबद्ध किया जाएगा।
  • प्रवासी नागरिकों को दी गई सरकारी मदद जैसे कि राशन, किट इत्यादि की भी जानकारी इस ऐप में उपलब्ध होगी।

HIGHLIGHTS

एप्लीकेशन का नाम Up Pravasi Rahat Mitra App , उत्तर प्रदेश प्रवासी राहत मित्र एप
लांच किया गया उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा
लाभार्थी उत्तर प्रदेश वापस आए सभी प्रवासी मजदूर
आधिकारिक वेबसाइट https://www.rahatup.in/
UP Pravasi Rahat Mitra app download यहां क्लिक कर ऐप डाउनलोड करें ↗️

उत्तर प्रदेश प्रवासी राहत मित्र एप का उद्देश्य

जैसा आप लोगों को पता है अभी पूरा देश और पूरी दुनिया कोरोनावायरस जैसी महामारी से लड़ रही है ऐसे में हमारे देश भारत में भी पूर्ण रूप से लॉक डाउन किया गया है । यह लॉक डाउन सरकार के द्वारा फिलहाल 31 मई 2020 तक बढ़ा दिया गया है आगे यह बढेगा या नहीं इसके ऊपर कुछ नहीं कहा जा सकता है । आज की तिथि में भारत में कोरोनावायरस संक्रमित मरीजों की संख्या 95000 के पार पहुंच चुकी है और वही मृतकों की संख्या 3200 के पार पहुंच चुकी है ।

ऐसे में राज्य सरकार की भी जिम्मेवारी बनती है कि इन प्रवासी मजदूरों को उनकी कुशलता के आधार पर कुछ ना कुछ काम उपलब्ध कराया जाए उन्हें रोजगार के साधन उपलब्ध कराए जाएं , इसी समस्या को ध्यान में रखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा यूपी प्रवासी राहत मित्र एप को लांच किया गया है ।

क्या होगा ऐप से ?

Up Pravasi Rahat Mitra App की बदौलत सरकार इन प्रवासी मजदूरों का डाटा प्राप्त करेगी और इस डेटा को rahatup.in राज्य सरकार की आधिकारिक वेबसाइट पर संग्रहित किया जाएगा । जिससे आने वाले समय में इन प्रवासी मजदूरों को उनकी कौशलता के हिसाब से सही नौकरी या आजीविका प्रदान की जा सके । साथ ही राज्य सरकार से यह भी जानकारी आ रही है कि यूपी प्रवासी राहत मित्र ऐप के जरिए इन प्रवासी मजदूरों को आने वाले समय में राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं का लाभ भी मिल पाएगा ।

नोट :- अगर आप प्रवासी मजदूर हैं और कोरोनावायरस लॉक डाउन की वजह से अपने राज्य वापस आए हैं तो आप अपना सर्वे जरूर Up Pravasi Rahat Mitra App में करें और अपनी सभी सही जानकारी इसमें दर्ज करें ताकि भविष्य में आपको उचित नौकरी या राज्य सरकार के द्वारा चलाई जाने वाली योजनाओं का लाभ मिल सके ।

उत्तर प्रदेश प्रवासी राहत मित्र एप के लाभ

  • Up Pravasi Rahat Mitra App का लाभ दूसरे राज्य से वापस उत्तर प्रदेश आने वाले प्रवासी मजदूरों को ही मिल पाएगा ।
  • जो प्रवासी मजदूर हाल ही में दूसरे राज्य से उत्तर प्रदेश वापस आए हैं वह अपना सर्वे Up Pravasi Rahat Mitra App पर करें ताकि उन्हें राज्य सरकार के द्वारा दी जाने वाली सरकारी योजनाओं का लाभ मिल सके ।
  • उत्तर प्रदेश प्रवासी राहत मित्र एप की बदौलत राज्य सरकार भविष्य में इन प्रवासी मजदूरों को उनकी कौशल के आधार पर उचित नौकरी और रोजगार उपलब्ध कराएगी ही साथ ही Up Pravasi Rahat Mitra App की बदौलत अभी प्रवासी श्रमिकों के स्वास्थ्य की जानकारी भी ट्रैक की जा रही है ।
  • अगर आप उत्तर प्रदेश राज्य सरकार के द्वारा दी जाने वाली इन सभी सुविधाओं और योजनाओं का लाभ लेना चाहते हैं तो सभी प्रवासी मजदूर को इस ऐप को डाउनलोड कर अपना पंजीकरण करना होगा ।
  • Pravasi Rahat Mitra App ( rahatup.in ) की एक बड़ी विशेषता यह भी है कि इस ऐप में ऑनलाइन के साथ-साथ ऑफलाइन भी काम किया जा सकता है । साथ ही इस ऐप के बदौलत प्रभावी निर्णय लेने के लिए ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों के लोगों के डाटा को ऐप अलग-अलग भी करके रख सकते हैं ।

UP PRAVASI RAHAT MITRA APP DOWNLOAD , यूपी प्रवासी राहत मित्र एप डाउनलोड कैसे करें ?

अगर आप प्रवासी मजदूर हैं और राज्य सरकार के द्वारा शुरू की गई इस नई योजना में भाग लेना चाहते हैं यानी आप अपनी जानकारी राज्य सरकार को देना चाहते हैं तो आप Up Pravasi Rahat Mitra App को डाउनलोड कर अपना रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं ।

  • ➡️ सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश राहत की आधिकारिक वेबसाइट rahatup.in पर जाना होगा , rahatup.in पर जाने के लिए यहां क्लिक करें । ↗️
  • ➡️ जैसे ही आप rahatup.in की वेबसाइट पर जाते हैं आपके सामने इसका Home Page कुछ इस प्रकार से खुलकर आ जाता है !👇

Up Pravasi Rahat Mitra App download

  •  वेबसाइट के Home Page पर Menu bar में आपको Geo Tagging Rahat App Up देखने को मिलता है इस पर क्लिक करना होगा ।
  • ➡️ जैसे ही आप Geo Tagging Rahat App Up ↗️ पर क्लिक करते हैं आपके सामने एक नया टैब खुल जाता है जिसमें यह ऐप डाउनलोड होने लगता है ।
  • Up Pravasi Rahat Mitra App आपके फोन में डाउनलोड हो चुका है इसे आप इंस्टॉल करें और ओपन करने के बाद अपना रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं ।
  • नोट :- इस ऐप को अपने फोन में इंस्टॉल करने में आपको ध्यान देना होगा कि आपकी फोन की सेटिंग में Install App From Unknown Sources का ऑप्शन Enable हो । (Enable होने की स्थिति में ही आपके फोन में यह ऐप डाउनलोड और इंस्टॉल हो पाएगा । )
Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published.